जो सपने देखने की हिम्मत रखते है वो पूरी दुनिया जीत सकते है , दोस्तों आज मै माइकल जॉर्डन की सच्ची कहानी बताने जा रहा हु मुझे उम्मीद है कि इस कहानी को सुनने के बाद आपके अंदर के सभी negative सोच ख़त्म हो जाएगी ! और आप अपने सपनो को पूरा करेंगे !

कहानी शुरू करने से पहले मै माइकल जॉर्डन के बारे में थोड़ा सा बता देता हु जिस तरह सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट का भगवान कहा जाता है उसी तरह बास्केटबॉल खेल में माइकल जॉर्डन का नाम सबसे पहले आता है

माइकल जेफरी जॉर्डन जन्म 17 फरवरी, 1963 को ब्रुकलिन, न्यू यॉर्क में हुआ था। माइकल जॉर्डन एक अमेरिकी बास्केटबॉल खिलाडी है! जॉर्डन ने शिकागो बुल्स और वाशिंगटन विज़ार्ड्स के लिए नेशनल बास्केटबॉल एसोसिएशन (एनबीए) में 15 सीज़न खेले। जिन्होंने अब सन्यास ले लिया है , इन्होने नेशनल बास्केटबॉल एसोसिएशन के द्वारा बहुत नाम कमाया है! बास्केटबॉल सुपरस्टार माइकल जॉर्डन कॉलेज, ओलंपिक और पेशेवर खेल इतिहास में सबसे सफल, लोकप्रिय और धनी एथलीटों में से एक है।

माइकल बहुत ही गरीब घर में पैदा हुए थे ! वो और उनका परिवार एक छोटे से झोपड़ी में रहता था ! माइकल कि सोच हमेशा कुछ बड़ा करने कि होती थी जिससे कि उनकी गरीबी कि प्रॉब्लम सुलझ जाये ! जब वो 13 साल के थे तब उनके पिता ने उन्हें बुलाया और एक पुराना use किया हुआ कपडा देकर बोले कि अच्छा बेटा ये बताओ कि इसकी कीमत कितनी होगी !

माइकल थोड़ी देर सोचने के बाद बोले ये एक डॉलर का तो होगा तभी पिता ने कहा कि कुछ भी करके बाजार में जाकर इस कपडे को दो डॉलर में बेचना है माइकल जॉर्डन ने उस कपडे को अच्छे से धो दिया और फिर घर पर आयरन न होने के कारण वह उसे ढेर सारे कपड़ो के निचे सीधा करने के लिए रख दिया अगले दिन देखा कि कपडे पहले से अच्छा दिखाई दे रहा है ! उसके बाद उसने पास के रेलवे स्टेशन पर जाकर घंटो के मेहनत बाद उस कपडे को बेच दिया और बहुत खुश होता हुआ घर आया ! और अपने पापा को पैसे दे दिए !

15 दिनों के बाद उसके पापा ने ठीक वैसे ही एक और कपडा दिया और कहा कि जाओ इसे 20 डॉलर में बेच कर आओ ! माइकल थोड़ा आश्चर्य होते हुए बोला इसकी 20 डॉलर कौन देगा पिता ने कहा एक बार कोशिश तो करो ! उसने फिर से अपना दिमाग लगाया और अपने दोस्त कि मदद से शहर जाकर उस कपडे पर मिक्की माउस कि स्टीकर लगा दी और आमिर घर वाले बच्चो के स्कूल के सामने उसे बेचने लगा ! एक छोटे से बच्चे ने अपने पापा से कह कर उसे खरीद लिया ! छोटे बच्चे के पिता ने उस कपडे ke 5 डॉलर extra भी दिए ! और इस तरह वो पुरानी टी-शर्ट को को 25 dollar में बेचा और ख़ुशी -२ घर आकर अपने पापा को बताया !

कुछ दिनों बाद उसके पिता ने एक और कपडा लाकर दिया और इस बार कहा कि जाओ इसे 200 डॉलर में बेच कर आओ ! इसबार तो ये बहुत ज्यादा था but माइकल ने कुछ नहीं कहा क्युकि हर बार वो सफल हो जा रहा था ! इस बार उसने दो चार दिनों का समय लिया क्युकि उसे कुछ समझ नहीं आ रहा था कि उसका दाम एक डॉलर से बढ़ा कर 200 डॉलर कैसे करे अचानक उसके दिमाग में एक आईडिया आया और वह तुरंत शहर चला गया उस दिन उस शहर में बहुत ही पॉपुलर एक्ट्रेस आयी हुई थी उसने पुलिस का घेरा तोड़ते हुए एक्ट्रेस से ऑटोग्राफ मांगने चला गया ! मासूम से बच्चे को देखकर एक्ट्रेस ने मना नहीं किया और उस एक्ट्रेस ने उस कपडे पर अपने ऑटोग्राफ दे दिए ! अगले दिन वह बाजार जाकर उस ऑटोग्राफ वाली टी-शर्ट को 200 डॉलर में बेचने लगा और उसको लेने के लिए बहुत से लोग इकट्ठे हो गए !

भीड़ इतनी ज्यादे हो गई कि उस कपडे को खरीदने के लिए बोली लगनी शुरू हो गयी और अंत में उस टी-शर्ट को एक पैसे वाले व्यक्ति ने 2000 डॉलर में खरीद लिया जब इस बार वह इतने पैसे लेकर घर पंहुचा और पूरी कहनी अपने पिता को बताई तो उनके आँखों में आँशु आ गए और वो बोले कि बेटा तुम जिंदगी में कुछ भी कर सकता है ! इसी बात को याद करते हुए माइकल ने एक इंटरव्यू में कहा जहा पर पॉजिटिव सोच होती है वह रास्ते अपने आप बन जाते है !

दोस्तो नकरात्मक सोच से कभी भी आप सकरात्मक जीवन नहीं जी सकते इसीलिए हमेशा बड़ा सोचिये और सकरात्मक सोचिये !आपका रास्ता खुद पर खुद बन जायेगा !

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए बहुत -2 धन्यवाद ! इस पोस्ट को शेयर करके आप हमारा मनोबल बढ़ा सकते है ! हिन्दीप्रो पर इस तरह के मोटिवेशनल पोस्ट हम शेयर करते रहते है ! आप bell का आइकॉन दबा के सब्सक्राइब कर लीजिये ताकि आप इस तरह के पोस्ट को miss न कर पाए ! Thanks and keep visting 🙂

अगर आपके पास हिंदी में कोई story, article, biography, inspirational story या जानकारी है, और आप हमारे साथ share करना चाहते है तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारा email address है:- hellohindipro@gmail.com
अगर आपकी कहानी हमें पसंद आयी तो हम उसे hindipro पर आपके नाम और फोटो के साथ शेयर करेंगे ! Thanks!