आर्गेनिक ट्राफिक लाना आसान नहीं होता है लेकिन अगर आप आर्टिकल लिखते समय कुछ बातो को ध्यान मैं रखते है तो आपका आर्टिकल गूगल के फर्स्ट पेज मैं show हो सकता है.आज मैं आपको इस आर्टिकल मैं ये बताने वाला हु की आप SEO Friendly Article कैसे लिख सकते है जिससे आपको आर्गेनिक ट्राफिक मिलने मैं मदद हो.

आपको आर्टिकल सिर्फ रीडर्स के लिए नहीं Search Engine को भी समज मैं आये वैसा लिखना होगा जिससे Search Engine आपके आर्टिकल को सर्च मैं आगे show करे.

SEO Friendly Article लिखने के लिए कुछ टिप्स

Original Content 

ब्लॉग मैं आर्टिकल matter नहीं करता है की आपने कितने आर्टिकल लिखे है लेकिन ये बहुत matter करता है की आपने वो आर्टिकल कॉपी किया है की Original और unique लिखा है. कोय भी search engine ऐसा आर्टिकल नहीं दिखायेगा जो कॉपी किया हुवा हो.
कुछ ब्लॉगर बहुत स्मार्ट होते है वो पूरा आर्टिकल कही से कॉपी करके लाते है और फिर बाद मैं उस वेबसाइट का लिंक देते है जहा से कॉपी किया हो. अगर आप ये सोच रहे की ऐसा करने से आपका आर्टिकल यूनिक और ओरिजनल हो जाता है तो आप बिलकुल गलत है.
कैसे चेक करे की आपने जो लिखा है वो यूनिक है? – इसके लिए मेरे पास आसान सा solution है जिसकी मदद से आप ये जान सकते है की आपका आर्टिकल कितना कॉपी है और उस आर्टिकल मैं कितने बदलाव कर सकते है जिससे वो पूरा ओरिजनल हो जाये. आपको सिर्फ ये वेबसाइट ओपन करनी होगी plagiarism checker और वेबसाइट मैं जा कर अपना आर्टिकल पेस्ट करना होगा ये वेबसाइट आपको सब डिटेल्स मैं बता देगी की कितना कॉपी है और कितना यूनिक है आपका आर्टिकल.

Title और Meta Description

मान लीजिए आपकी पोस्ट search Engine के पहले पेज मैं आ गयी है लेकिन उसका Title और Meta Description आपने सही से नहीं दिया है तो इसके वजह से भी आपका आर्टिकल ओपन नहीं होगा. SEO Friendly Article लिखने के लिए आपको सही से Title और Meta Description देना चाहिए.
फोकस कीवर्ड को Title मैं पहले रखना चाहिए जिससे search result मैं आगे आने के chances बढ़ जाते है. आपको Title को 65 character से कम मैं लिखना होगा उससे ज्यादा के character हो तो वो अच्छे से show नहीं होते है search engine मैं. अब आपको मैं Meta Description के बारे मैं बताता हु यहाँ पर भी आपको फोकस कीवर्ड को आर्टिकल के फर्स्ट paragraph मैं लिखना होगा ये SEO के लिए बहुत अच्छा होगा.

Internal Linking

ये बहुत आसान है आपको सिर्फ अपने आर्टिकल मैं पुराने आर्टिकल की लिंक्स देनी होती है जो इस आर्टिकल के रेलेटेड हो. ऐसा करने से आपको दो फायदे होंगे एक तो SEO Friendly Article हो जायेगए और दूसरा की आपके ब्लॉग का Bouncerate कम होगा. Internal Linking का सबसे अच्छा Example Wikipedia है आपने भी Wikipedia मैं देखा होगा की उन्होंने सब आर्टिकल मैं जरुरी हर वर्ड पर internal link दिया है.

Article Structure

आपको अब कुछ छोटी बातो को ध्यान मैं रखना होगा जिससे आपको ज्यादा प्रॉफिट होगा यहाँ पर हमे आपको कुछ पॉइंट्स बताये है.

  • आर्टिकल मैं कम से कम 500 वर्ड होने चाहिए.
  • फोकस कीवर्ड को H2 और H3 मैं 2-3 बार लिखना चाहिए.
  • जरुरी वर्ड को बोल्ड करे.
  • Outbound link का use करे.

अगर आप उप्पर दिए गए सभी पॉइंट्स को implement करते है तो आप SEO Friendly Article आसानी से लिख सकते है. ये सभी पॉइंट्स को implement करना बहुत आसान है. आप इस तरह से अगर दो तीन आर्टिकल लिखते है उसके बाद आपको ये पॉइंट्स को देखने की भी जरुरत नहीं होगी.

Images

अगर आपने उप्पर बताई गयी सभी बातो को ध्यान मैं रखकर आर्टिकल लिख दिया लेकिन आपने उस आर्टिकल मैं Optimized Image नहीं use की है तो आपके ब्लॉग की पेज लोड स्पीड कम हो जाएगी और उस इमेज की वजह से यूजर वो पेज ओपन होने से पहले ही चला जायेगा. यहाँ पर भी कुछ पॉइंट्स लिखे है की आपको कैसी इमेज use करनी चाहिए.
कॉपीराइट वाली इमेज का इस्तेमाल ना करे.
इमेज फाइल का नाम अपने आर्टिकल के टाइटल जैसा लिखे.
जरुरी हो उतनी ही इमेज रखे.

Conclusion:
उप्पर की सभी बातो से केवल यही बात सामने आती है की आपको सिर्फ यूनिक आर्टिकल लिखना चाहिए और छोटी छोटी बातो पर भी ध्यान देना चाहिए जैसे की Title, Meta Description, Internal Linking और images अगर आप इन सभी बातो को ध्यान मैं रखते है तो आपके आर्टिकल के लिए बहुत अच्छा होगा.
मुझे लगता है की आप अब SEO Friendly Article आसानी से लिख सकते है. आपको कोय भी Problem हो तो जरूर Comment मैं लिख दे हम आपको जरूर Possible Solution देंगे. आप ये जानकारी अपने दोस्तों के साथ भी Share कर सकते है.