तेजी से बदलती जीवनशेली, तनाव, डिप्रेशन और चिंता ने अनेको बिमारियों को जन्म दिया है और उन्ही में से एक गंभीर बीमारी है Diabetes जिसे मधुमेह या आम भाषा में sugar ki bimari (शुगर की बीमारी) भी कहा जाता है!

संसार भर में मधुमेह रोगियों की संख्या तेजी से बढ़ रही है विशेष रूप से भारत में ! भारत में हर पांच में से एक व्यक्ति को diabetes है! इसीलिए आज hindipro.Com पर मैं आपके साथ Diabetes के कारण, लक्षण और प्रकार के बारे में एक detailed post share कर रहा हूँ जो आपकी जानकारी के लिए उपयोगी साबित हो सकते है.

मधुमेह क्या है – WHAT IS DIABETES

मधुमेह एक ऐसी बीमारी हैं जिसमें रोगी के blood में ग्लूकोज की मात्रा (blood sugar level) ज़रुरत से अधिक बढ़ जाता है तो उस स्थिति को डायबिटीज कहा जाता है. मधुमेह को silent killer भी कहते हैं क्योंकि बहुत बार इसके लक्षण साफ़ नहीं होते और जो थोड़ी बहुत दिक्कत होती भी है तो आदमी उसे ignore कर देता है, और जब बीमारी बहुत अधिक नुक्सान पहुंचा देती है तब इसका पता चलता है.

मधुमेह के प्रकार (Types of Diabetes in Hindi)

Diabetes दो प्रकार के होते है :-
1. Type 1 diabetes: Type 1 diabetes ज्यादातर छोटे बच्चो में देखा जाता है ! इसमें बॉडी insulin बनाना बंद कर देती है और मरीज को injection द्वारा इन्सुलिन देना पड़ता है.

2. Type 2 diabetes: आजकल भारत के ज्यादातर लोग types 2 डॉयबिटीज़ के शिकार हो रहे है ! types 2 डॉयबिटीज़ में शरीर के अंदर इन्सुलिन का निर्माण तो होता है , पर वह शरीर के आवश्यकता के अनुसार उसका निर्माण नहीं कर पाता !

मधुमेह के सामान्य लक्षण

डायबिटीज के अनेक लक्ष्ण है जिसमे से निचे दिए गए प्रमुख है. अगर किसी इंसान को इनमे से ज्यादातर लक्षण दिखाई दे तो तुरतं जांच करवानी चाहिए.

1.थकान महसुस होना

मधुमेह के शुरूआती दौर में आप सारा दिन थकान महसूस करेंगे ! सुबह उठते ही आपको ऐसा लगेगा की आपकी नींद पूरी नहीं हुई है , और शरीर में थकान सी महसूस होगी ! काम करने के दौरान या बाद में थकान होना आम बात है लेकिन अगर आपको हमेशा थकान बना रहता है तो यह Diabetes Symptoms है

2. लगातार पेशाब लगना

औसतन एक इंसान दिन भर में 6-7 बार पेशाब करता है, लेकिन मधुमेह होने पर बार बार पेशाब आने लगता है! जब शरीर में ज्यादा मात्रा में शुगर इकठा हो जाता है तो यह पेशाब के रास्ते से बाहर निकलता है ! यदि आपको इस प्रकार बार-बार urinate करना पड़ रहा है तो आपको डायबिटीज हो सकता है.

3. अत्यधिक प्यास लगना और जोर से भूख लगना

मधुमेह रोगी को बार – बार प्यास लगती है ! चुकि पेशाब के रास्ते से शरीर का पानी और शुगर बाहर निकल जाता है, जिससे हमेशा प्यास लगने जैसी स्थिति बनी रहती है !
कोशिकाओं में ग्लूकोज़ नही पहुंचने के कारण शरीर की ऊर्जा आपूर्ति पूरी तरह से नही हो पाती है और मधुमेह का रोगी हमेशा थकान महसूस करता है और उसे जल्दी भूख लगने लगती है।

4. आँखे कमजोर होना

मधुमेह होने पर आंखों पर काफी बुरा असर पड़ता है, जिसमें रोगी को धुंधला दिखाई पड़ने लगता है ! अचानक आँखों के सामने अँधेरा होना, आँखे लाल होना जैसी समस्या भी मधुमेह का संकेत हो सकता है।

5. अचानक वजन कम होना

मधुमेह रोगी को शुरुआत में ही अचानक वजन कम होने लगता है ! जब हमारे शरीर की कोशिकाओ को निर्धारित मात्रा में ग्लूकोज नहीं मिल पाता हैं तो कोशिकाएं शरीर में मौजूद वसा और मांसपेशियों से उसकी आपूर्ति करने लगती हैं । वसा और मांसपेशियों में कमी आने की वजह से मधुमेह और डायबिटीज से ग्रसित व्यक्ति का वजन तेजी से घटने लगता हैं ।

6. घाव का जल्दी न भरना

अगर आपके शरीर में कही चोट या घाव हो जाये और यह जल्दी न भरे , चाहे कोई छोटी सी खरोच क्यों न हो , वह धीरे -धीरे बड़े घाव में बदल जाएगी और उसमे संक्रमण के लक्षण साफ – साफ दिखाई देने लगेंगे !

7. तबियत ख़राब रहना

डॉयबिटीज़ मरीज़ के शरीर में किसी भी तरह का संक्रमण जल्दी से ठीक नहीं होता है ! अगर आपको वायरल, खांसी -जुकाम या कोई भी बैक्टीरियल इन्फेक्शन हो जाये तो आपको राहत जल्दी नहीं मिलेगी !

8. हाथ पैर में झुनझुनी होना / हाथ-पाँव सुन्न पड़ना

मधुमेह के परिणामस्वरूप पैर, हाथ और भुजाएँ सोये हुए लग सकते हैं, क्योंकि यह हाथ-पैरों के किनारों की नसों में रोग (न्यूरोपेथी-तंत्रिकाओं को प्रभावित करने वाला रोग जो प्रभावित तंत्रिका के प्रकार के आधार पर एहसास, गति, ग्रंथि या अंग के कार्य, या स्वास्थ्य के अन्य पहलुओं में कमी कर सकता है!

9. त्वचा के रोग होना

डॉयबिटीज़ मरीज़ में ग्लूकोज़ की मात्रा अधिक होती है और यीस्ट या फंगल इन्फेक्शन को फलने-फूलने के लिए ग्लूकोज चाहिए होता है. इसलिए यदि आपको बार-बार यीस्ट इन्फेक्शन हो रहा है तो ये भी मधुमेह का एक लक्षण हो सकता है ! आमतौर पर ये संक्रमण उँगलियों के बीच में, स्तन के नीचे, और सेक्स organs और जाँघों के आस-पास होता है!

10.आनुवंशिक कारण

आपके परिवार में किसी सदस्य को भी मधुमेह की समस्या रही हो तब आपको सावधान रहने की जरूरत है क्यूँकि यह एक आनुवंशिक बीमारी है !

मधुमेह होने के कारण (Causes of Diabetes in Hindi)

Genetic (अनुवांशिक)
ज्यादा शारीरिक क्षम न करना
खान पान और मोटापा
मानसिक तनाव और डिप्रेशन
गर्भावस्था
ज्यादा दवाइयों के सेवन
ज्यादा चाय, दूध, कोल्ड ड्रिंक्स और चीनी वाले खाने के सेवन
धूम्रपान और तम्बाकू का सेवन

उम्मीद करता हूँ यह लेख आपके लिए फायदेमंद रहा होगा. यदि आप भी इस सम्बन्ध में हमसे कोई जानकारी share करना चाहते हैं तो कृपया कमेन्ट के माध्यम से शेयर करें.